Tuesday, May 21, 2024
More
    HomeIndiaBharat Shakti Yuddh Abhyas: पोखरण में युद्ध अभ्यास देख पाकिस्तान चीन का...

    Bharat Shakti Yuddh Abhyas: पोखरण में युद्ध अभ्यास देख पाकिस्तान चीन का बुरा हाल!

    -

    राजस्थान के पोखरण फील्ड फायरिंग रेंज में युद्ध अभ्यास किया गया जिसका साक्षी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बने। उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि हमने पिछले 10 वर्षों में देश को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक के बाद एक बड़े कदम उठाए हैं। जानकारी के लिए बता दें की 12 मार्च 2024 को प्रधानमंत्री ने 30 से अधिक देशों के प्रतिनिधियों के साथ राजस्थान के पोखरण में हो रहे भारत शक्ति युद्ध अभ्यास का साक्षी बने।

    चीन का भी हुआ बुरा हाल!

    पोखरण में सेनाओं द्वारा ऐसा प्रदर्शन किया गया जिस वजह से पाकिस्तान क्या चीन भी घबरा गए। बता दे कि इस युद्ध अभ्यास में जल सेना, थल सेना और वायु  सेना तीनों सेनाएं शामिल थे। पोखरण में हो रहा है इस युद्ध अभ्यास को भारत शक्ति नाम दिया गया। भारत शक्ति का उद्देश्य था स्वदेशी करण से सशक्तिकरण। इस युद्ध अभ्यास के दौरान स्वदेशी हथियारों का इस्तेमाल किया गया जिसमें तेजस लड़ाकू विमान प्रचंड हेलीकॉप्टर जैसे हथियार था। युद्ध अभ्यास लगातार 50 मिनट तक चला तीनों सेनाओं द्वारा जब शक्ति प्रदर्शन किया गया तब इन 50 मिनट में चीन के राष्ट्रपति एवं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की दिल की धड़कन तेज हो गई थी।

    भारत की बड़ी आर्थिक ताकत बनने में राजस्थान की भूमिका!

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pm Narendra Modi) ने कहा पिछले दस वर्षों में हमने देश को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए अथक प्रयास किये हैं और एमएसएमई और स्टार्टअप को प्रोत्साहित किया। प्रधान मंत्री जी ने कहा आने वाले वर्षों में जब हम दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेंगे तो भारत का सैन्य सामर्थ्य भी नई बुलंदी पर होगा। भारत को तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनाने में राजस्थान की बहुत बड़ी भूमिका होने वाली है।

    प्रधानमंत्री ने डिफेंस सेक्टर (defence sector) की, की सराहना!

    भारत शक्ति युद्ध अभ्यास को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बीते 10 वर्षों में भारत ने अपना लड़ाकू हवाई जहाज बनाया गया। इसके साथ साथ भारत ने अपना एयरक्राफ्ट कैरियर बनाया है, C295 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट भारत में बनाए जा रहे हैं। आधुनिक इंजन का निर्माण भी भारत में होने वाला है। आज देश में उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु में डिफेंस कॉरीडोर बन रहे हैं। आज हेलीकॉप्टर बनाने वाली एशिया की सबसे बड़ी फैक्टरी भारत में काम करना शुरू कर चुकी है।

    प्रधानमंत्री डिफेंस सेक्टर की तारीफ करते हुए कहा कि, आप कल्पना कर सकते हैं कि भारत की भविष्य में भारत की सेना एवं डिफेंस सेक्टर कितना बड़ा होने वाला है। एक समय भारत दुनिया का सबसे बड़ा डिफेंस इंपोर्टर हुआ करता था वही आज भारत डिफेंस सेक्टर (defence sector) में एक बड़ा निर्यातक बनता जा रहा है।

    Related articles

    Latest posts