Saturday, June 15, 2024
More
    HomeIndiaसाड़ी पहनने से महिलाओं को होती है कैंसर, क्या है साड़ी कैंसर?...

    साड़ी पहनने से महिलाओं को होती है कैंसर, क्या है साड़ी कैंसर? झारखंड बिहार की महिलाएं सबसे ज्यादा पीड़ित !

    -

    Saree cancer: भारत देश (Bharat Desh) एकमात्र ऐसा देश है जहां महिलाएं 12 महीना तक साड़ी पहनती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं की साड़ी पहनने से महिलाओं को कैंसर जैसी बीमारी हो सकती है और सबसे अधिक कैंसर की चांसेस तो उन महिलाओं को है जो लंबे समय से केवल साड़ी ही पहनती आई हैं। क्या आप या आपकी रिश्तेदार साड़ी पहनती हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है इसे जरूर पढ़ें।

    एक रिपोर्ट के मुताबिक जो महिलाएं साड़ी पहनती हैं उन्हें कैंसर (cancer) जैसी जानलेवा बीमारी हो सकती है। वैसे तो सबसे अधिक साड़ी भारत में पहनी जाती है लेकिन अभी विदेशों में भी साड़ी पहनने का ट्रेंड चल रहा है। लेकिन यह बीमारी (disease) केवल भारतीय महिलाओं को ही लगती है। आईए जानते हैं कि साड़ी पहनने से महिलाओं में कैंसर जैसी बीमारी कैसे उत्पन्न हो जाती है।

    गलत तरीके से साड़ी पहनने से होती है कैंसर!

    साड़ी पहनने के बहुत सारे तरीके होते हैं। भारत के अलग-अलग क्षेत्र में अलग-अलग तरीके से साड़ी पहना जाता है अगर महिलाएं गलत तरीके से साड़ी पहनती हैं तो उनमें कैंसर (cancer) जैसी बीमारी उत्पन्न हो सकती है। गलत तरीके से अभिप्राय, साड़ी पहनने से पूर्व पेटिकोट पहना जाता है। जिसमें रिबन होता है उस रिबन को कसने से महिलाओं के स्किन पर झुरी पड़ जाते हैं और कई बार तो त्वचा छिल भी जाती है अब ऐसी स्थिति में महिलाओं को स्किन कैंसर (skin cancer) होने की चांसेस होती है। इस बीमारी से बचने के लिए महिलाओं को साड़ी की जगह अन्य वस्त्र भी धारण करनी चाहिए। महिलाओं को इन बात का ध्यान देना चाहिए कि वह ज्यादा टाइट कपड़े ना पहने।

    बताया जा रहा है कि, झारखंड (Jharkhand) और बिहार (Bihar) की महिलाओं में तेजी से साड़ी कैंसर फैल रही है।

    साड़ी कैंसर क्या है (What is saree cancer)?

    साड़ी कैंसर (saree cancer) त्वचा कैंसर (skin cancer) है। गलत तरीके से साड़ी पहनने से त्वचा छिल जाती है और कमर में साड़ी बांधने वाले भाग में काले निशान पड़ जाते हैं जिससे कैंसर (cancer) जैसी भयंकर बीमारी होती है।

    साड़ी कैंसर का लक्षण (Saree cancer symptoms)

    कमर के जिस भाग में पेटिकोट बांधते हैं वह भाग में बहुत ज्यादा छिल जाती है।

    बाद में पेटिकोट बांधने वाले जगह में गहरा काला निशान बन जाता है ऐसे में साड़ी कैंसर (saree cancer) होने की संभावना होती है।

    पेटिकोट बांधने से उस स्थान पर पापड़ी बन जाती है। जो बाद में स्किन कैंसर (skin cancer) का रूप ले सकता है।

    साड़ी कैंसर (Saree cancer) से कैसे बचें।

    गलत तरीके से साड़ी पहनने से महिलाओं के कमर के त्वचा में कैंसर हो सकती है इसलिए साड़ी पहनते वक्त इन बातों को ध्यान देना अति आवश्यक है।

    1__साड़ी पहनने से पूर्व पेटिकोट पहना जाता है। पेटिकोट को लगातार एक ही स्थान पर नहीं बांधना चाहिए। बार-बार पेटिकोट के स्तर को बदलना चाहिए।

    2__पेटिकोट के बंद को टाइट के बजाय लूज कसना चाहिए।

    3__ज्यादा टाइट कपड़ा नहीं पहनना चाहिए।

    4__साड़ी के अलावा अन्य तरह के कपड़े भी पहननी चाहिए।

    5__साथ ही साथ अपने लाइफ स्टाइल में बदलाव लाना चाहिए, अपने रोजमर्रा के जीवन में व्यायाम करना चाहिए और खान-पान पर ध्यान देना चाहिए।

    Related articles

    Latest posts