Monday, May 27, 2024
More
    HomeIndian armyबीएसएफ (BSF) और आर्मी (ARMY) में क्या अंतर है ?

    बीएसएफ (BSF) और आर्मी (ARMY) में क्या अंतर है ?

    -

    आर्मी ,बीएसएफ,सीआईएसफ  ये सभी भारत के  सुरक्षा करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं  साथ ही  देश की आर्थिक सुरक्षा और सीमा सुरक्षा में भारतीय सेना के साथ-साथ बीएसएफ ,सीआरपीएफ, आईटीबीपी , सीआईएसएफ और एसएससी का काफी योगदान रहता है , लेकिन दोस्तों क्या आप ये जानते हैं कि यह सुरक्षा बाल, भारतीय सेना से अलग होते हैं और इन्हें मिलने वाली सुविधा में भी काफी अंतर होता है ।

    यह भी पढ़े :

    आपकी जानकारी के लिए बता दे की सेंट्रल पुलिस फोर्स और भारतीय सेना में काफी अंतर होता है कई सुरक्षा बल गृह मंत्रालय के अधीन आते हैं जिसमें सीआरपीएफ , आईटीबीपी , बीएसएफ ,असम राइफल और सब शामिल है और वही सेना (army) में भारतीय सेना, वायु सेवा और नौसेना आते हैं।  अर्ध सैनिक बल देश में रहकर  सीमा पर देश की सुरक्षा करते हैं और  पूरे देश में आतंकवाद और नक्सलवाद विरोधी अभियानों में भी लगे रहते हैं और सुविधाओं के नाम पर जो सहूलियत भारतीय सेना को मिलती है वैसी सुविधा अर्ध सैनिक बलों को नहीं मिलती । बीएसएफ शांति के समय सीमा पर रक्षा करती है और किसी भी घुसपैठ पर निगरानी रखती है और उनसे लड़ती है जबकि आर्मी युद्ध के दौरान देश की सीमा की रक्षा करती है।  बीएसएफ के जमाने को सीमा पर तैनात किया जाता है जबकि भारतीय सेना के जवान सीमा से दूर रहते हैं और युद्ध के लिए खुदको तैयार करते हैं । बता दे कि भारतीय सेना के जवानों को बीएसएफ के जवानों से ज्यादा सुविधाएं मिलती है इसमें कैंटीन, आर्मी स्कूल जैसी सेवाएं शामिल है । भारतीय सेना  रक्षा मंत्रालय के अधीन आती है जबकि बीएसएफ गृह मंत्रालय के अधीन होती है। बता दे कि भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट , मेजर , करनाल , ब्रिगेडियर , मेजर कर्नल जैसी रैंकिंग होती है जबकि बीएसएफ में कांस्टेबल , हेड कांस्टेबल , एसएसआई और आईजी जैसी पोस्ट होती है।  भारतीय सेना के अधिकारी एनडीए और CDS के माध्यम से चुने जाते हैं और यह परीक्षा यूपीएससी (UPSC) के द्वारा कराई जाती है जबकि बीएसएफ में SI तक की उम्मीदवार एसएससी (SSC) के द्वारा चुने जाते हैं। बीएसएफ का मुख्य एक आईपीएस ऑफिसर होता है जबकि आर्मी का मुख्य कमांडर खुद देश का राष्ट्रपति होता है । बता दे कि बीएसएफ युद्ध के दौरान इंडियन आर्मी के बैकअप फोर्स की तरह काम करती है जिसे जरूरत पड़ने पर इस्तेमाल किया जा सकता है । आपको बता दे कि बीएसएफ का निर्माण इसलिए किया गया क्योंकि इंडियन आर्मी पूरे साल भर देश की सीमा की सुरक्षा करने की वजह से आर्मी को युद्ध की ट्रेनिंग के लिए समय नहीं मिल पाता था । दोस्तों अब आप लोग अच्छे से समझ आया होगा कि बीएसएफ और आर्मी में क्या अंतर होता है उम्मीद है दोस्तों आपका ये आर्टिकल पसंद आया होगा ।

    Related articles

    Latest posts